पुलिस ने छह नाबालिगों को छुड़ाया तथा 73 लोगों को गिरफ्तार किया

शिलॉन्ग: मेघालय के तुरा में अपने फार्महाउस में ‘‘वेश्यालय’ चलाने के आरोप में भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश इकाई के उपाध्यक्ष बर्नार्ड एन मराक की गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने सोमवार को गैर-जमानती वारंट जारी किया। पुलिस ने बताया कि शनिवार को छापेमारी में मराक के फार्महाउस रिम्पु बागान से छह नाबालिगों को छुड़ाया गया तथा 73 लोगों को गिरफ्तार किया गया। इसके बाद से मराक फरार हैं।

पश्चिम गारो हिल्स के पुलिस अधीक्षक विवेकानंद सिंह ने कहा, ‘‘बर्नार्ड एन मराक उर्फ रिम्पु के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया गया है। तुरा में मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत द्वारा जारी यह एक ‘स्टैंडिंग वारंट’ है।’’ पुलिस ने बताया कि मराक को जांच में सहयोग के लिए कहा गया है लेकिन वह जांचकर्ताओं से दूर भाग रहे हैं। उन्हें पकड़ने के प्रयास किए जा रहे हैं।

वहीं, उग्रवादी से नेता बने मराक ने आरोप लगाया कि वह मुख्यमंत्री कोनराड के. संगमा के राजनीतिक प्रतिशोध का निशाना बन रहे हैं तथा उन्हें जान का खतरा है। इन आरोपों को खारिज करते हुए उपमुख्यमंत्री प्रेस्टोन तिनसोंग ने कहा कि उनकी सरकार पुलिस को उसके विवेक के अनुसार काम करने देती है।