जबलपुर। जबलपुर की लोकायुक्त पुलिस की टीम ने जिला होमगार्ड कार्यालय में पदस्थ सहायक उप निरीक्षक प्रदीप कुमार शर्मा को गुरुवार को 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए पकड़ा है। बताया गया प्रदीप कुमार ने सैनिक पंकज पवार से किट जमा करने और नामांकन रद्द कराने की धमकी देकर रिश्वत मांगी थी। पंकज होमगार्ड सैनिक के पद पर है, जो करीब दो साल से अपनी पदस्थापना पर उपस्थित नहीं था। तीन महीने पहले ही उसने वापस इसमें ज्वाइनिंग दी थी। इसके बाद शर्मा ने उसे धमकाते हुए रिश्वत की मांग की थी। सैनिक की शिकायत के बाद लोकायुक्त टीम ने प्रदीप शर्मा को 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा। लोकायुक्त टीम में उप पुलिस अधीक्षक दिलीप झरबड़े, निरीक्षक स्वप्निल दास, निरीक्षक भूपेंद्र दीवान शामिल रहे।

बाजार में मिला तड़ीपार, हुआ गिरफ्तार

चरगवां निवासी अल्लू उर्फ अशोक जैन 46 वर्ष को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। चरगंवा निवासी अल्लू बाजार में किराना दुकान के सामने बैठा मिला। जबकि कलेक्टर ने उसके खिलाफ जिलाबदर आदेश पारित किया था। अल्लू के खिलाफ कई आपराधिक प्रकरण दर्ज हैं। उसके स्वच्छंद विचरण से आपराधिक घटनाओं का खतरा था। पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर उसके खिलाफ जिलाबदर का प्रतिवेदन कलेक्टर कार्यालय भेजा गया था। 24 जनवरी को उसे जबलपुर, मंडला, डिंडौरी, सिवनी नरसिंहपुर कटनी, दमोह, उमरिया की राजस्व सीमाओं से छह माह के लिए जिलाबदर किया गया था।

सीने में दांत से काटाः

ब्रजमोहन नगर गोरखपुर में दो पक्षों में मारपीट हो गई। इस दौरान तलवार चले तथा दांत से काटकर खून बहा दिया गया। एक पक्ष से विक्की उर्फ विकास राणा 22 वर्ष ने घटना की रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने बताया कि विक्की अपने साथी प्रताप, अंश उर्फ पांच गेयर व रोहित के साथ विवाह समारोह में सामुदायिक भवन गया था। जहां मोहल्ले में रहने वाला शेरा पटेल अपने जीजा सुजीत पटेल के साथ मिला। दोनों ने रंजिश के चलते उस पर तलवार से हमला कर दिया। सीने में दांत से काटा गया, जिससे खून बहने लगा। दूसरे पक्ष से राज पटेल 15 वर्ष ने रिपोर्ट दर्ज कराई। उसने बताया कि उसके चाचा शेरा उर्फ रोहित पटेल की शादी थी। विक्की राणा व उसके दोस्तों को आमंत्रित नहीं किया गया था। तब भी वे तलवार लेकर समारोह में पहुंचे और मारपीट कर दी। दोनों पक्षों के खिलाफ एफआइआर दर्ज कर पुलिस मामले की जांच कर रही है।