भोपाल। भाजपा और एनडीए की ओर से ओडिशा की द्रौपदी मुर्मू को राष्ट्रपति पद के चुनाव में संयुक्त प्रत्याशी बनाए जाने पर भाजपा प्रदेश कार्यालय पं. दीनदयाल परिसर में एक विशेष कार्यक्रम आयोजित कर प्रधानमंत्री एवं पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष जेपी नड्डा के प्रति आभार व्‍यक्‍त किया गया। इस कार्यक्रम में मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और पार्टी के प्रदेशाध्‍यक्ष विष्‍णुदत्‍त शर्मा समेत मध्य प्रदेश के सभी आदिवासी जनप्रतिनिधि और पार्टी पदाधिकारी शामिल हुए। कार्यक्रम के दौरान सीएम शिवराज और पार्टी के अन्‍य नेता आदिवासी रंग में रंगे नजर आए। कार्यक्रम के लिए मंच पर पहुंचने से पूर्व सीएम शिवराज और वीडी शर्मा आदिवासी लोक-कलाकारों के साथ जनजातीय लोक-संगीत की धुनों पर उनके साथ खूब नाचे।

कार्यक्रम के दौरान शिवराज सिंह ने उपस्‍थित लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि भारत के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है जब भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व में जनजातीय वर्ग की महिला द्रौपदी मुर्मू देश के सर्वोच्च पद का दायित्व मिला है। कांग्रेस ने जनजातीय वर्ग का केवल शोषण किया है, उन्हें केवल वोट बैंक का साधन माना है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केन्द्र सरकार और मध्यप्रदेश की भाजपा सरकार मिलकर जनजातीय वर्ग को उनका सम्मान दिलाने के लिए प्रतिबद्ध है। भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व में जनजातीय गौरव दिवस मनाया गया व मध्यप्रदेश में धीरे-धीरे पेसा एक्ट लागू किया जा रहा है। जनजातीय वर्ग के सर्वांगीण कल्याण के लिए भाजपा सरकार पूरी तरह प्रतिबद्ध है।

इससे पूर्व कार्यक्रम में पार्टी प्रदेशाध्‍यक्ष वीडी शर्मा ने कहा कि आज़ादी के बाद किसी भी राजनीतिक दल ने नहीं सोचा कि राष्ट्रपति पद पर जनजातीय वर्ग की कोई महिला पहुंच सकती है। ये सिर्फ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में संभव हो पाया है। जनजातीय वर्ग को उनका सम्मान दिलाने के लिए प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में केन्द्र सरकार पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। इस वर्ग के उत्थान में भाजपा सरकार द्वारा कई ऐतिहासिक निर्णय लिए गए हैं। प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में केन्द्र सरकार ‘सबका साथ, सबका विकास, सबका प्रयास और सबका विश्वास’ की भावना के साथ हर वर्ग के विकास के लिए कार्य करती है। एनडीए गठबंधन व भाजपा के शीर्ष नेतृत्‍व द्वारा जनजातीय वर्ग की महिला को दिए इस सम्‍मान से लोगों में अपार हर्ष है।