जगमाल सिंह राजपुरोहित

भीनमाल। स्थानीय आदर्श विद्या मंदिर उच्च माध्यमिक विद्यालय का परीक्षा परिणाम समारोह मुख्य अतिथि पुलिस उपाधीक्षक सीमा चौपडा, कार्यक्रम की अध्यक्षता नागरिक कल्याण मंच के अध्यक्ष माणकमल भंडारी और विशिष्ट अतिथि जोगाराम चौधरी की उपस्थिति में समावर्तन एवं पारितोषित वितरण समारोह सम्पन्न हुआ।

कार्यक्रम में कक्षा नवमी एवं एकादशी में अपने-अपने क्षेत्र में अव्वल रहने वाले भैयाओं को पारितोषिक भी दिया गया। कार्यक्रम की विशिष्ट अतिथि पुलिस उप अधीक्षक सीमा चौपडा ने बालकों को सम्बोधित करते हुए कहा कि वर्तमान समय को देखा जाए तो इंसान को अपने जीवन में सही और ग़लत का निर्णय करना बहुत ज़रूरी है। आज कल आप जिस इंसान के साथ बैठते हो, जिसके साथ रहते हो, वो सही है या ग़लत इसका निर्णय लेना बहोत ज़रूरी है, क्यूँकि हम जिसके साथ अपना अधिक समय व्यतीत करते है सामान्य तौर पर हम भी उसके जैसा होने लगते है इसलिए वह व्यक्ति सही है या ग़लत, इसका चयन करना अति आवश्यक है। साथ ही उन्होंने बच्चों को वर्तमान में नशीले पदार्थों के सेवन से दूर रहने का आग्रह किया। उन्होंने बालकों को अपने जीवन में कभी नशा नही करके अपने लक्ष्य के लिए आगे बढ़ने के लिए भी प्रेरित किया।

            समारोह की अध्यक्षता करते हुए नागरिक कल्याण मंच के अध्यक्ष एवं जिले के वरिष्ठ पत्रकार माणकमल भंडारी ने आदर्श विद्या मंदिर के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए कहा कि यहां पर अनुशासन के साथ नैतिकता का पाठ पढाया जाता है। छात्रों का आव्हान करते हुए भंडारी ने कहा कि अनुशासन ही सुखी जीवन का मूल मंत्र है। इसलिए सुखी जीवन जीने के लिए अनुशासन महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। उन्होंने विद्यालय परिवार का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि यहां से पढाई कर जाने वाले छात्र सुसंस्कारी एवं राष्ट्र भावना से ओत-प्रोत होकर जीवन के उच्चतम स्तर तक पहुंचते हैं। विशिष्ट अतिथि जोगाराम चौधरी ने अपने बाल्यकाल के अनुभव सुनाते हुए छात्रों के उज्जवल भविष्य की कामना की।
मीडिया प्रभारी माणकमल भंडारी ने बताया कि इस दौरान एडवोकेट बाबूलाल चौधरी, भँवरलाल कानूनगो, विद्यालय के प्रधानाचार्य नरेंद्र आचार्य, अध्यापक गण और विद्यालय के विद्यार्थी मौजूद रहें।