शोभित यूनिवर्सिटी ने किया तीसरे राष्ट्रीय कल्याण शिखर सम्मेलन का आयोजन, योग आयुर्वेदा और नेचुरोपैथी पर दिया ज़ोर

शोभित यूनिवर्सिटी ने योग, आयुर्वेदा और नेचुरोपैथी यानि प्राकृतिक चिकित्सा पर जोर डालते हुए ले मेरिडियन में एक कार्यक्रम आयोजित किया। बता दें कि इस तीसरे राष्ट्रीय कल्याण शिखर सम्मेलन में श्री जगदीश प्रसाद माथुर जो कि भारतीय जनता पार्टी के संस्थापक सदस्य हैं उनकी 100वीं जयंती भी मनाई गई। इस कार्यक्रम को आयोजित करने में नॉलेज पार्टनर कुंवर शेखर विजेंद्र, आयुर्वेद मेडिकल कॉलेज एंड रिसर्च सेंटर उत्तर प्रदेश और ऑर्गेनाइजिंग पार्टनर बिजनेस फर्स्ट ने पूरा सहयोग दिया।

 

शेखर विजेंद्र ने आयुर्वेद पर सबका ध्यान खींचते हुए कहा कि यह सम्मेलन केवल कार्यक्रम में भाग लेने के लिए आयोजित नहीं किया गया। बल्कि आयुर्वेद से जुड़े नेताओं से ज्ञान प्राप्त करने के लिए भी किया है। साथ ही उन्होंने मुख्य अतिथि भाजपा के पूर्व उपाध्यक्ष श्री श्याम जाजू, कियाराना उत्तर प्रदेश लोकसभा सदस्य श्री प्रदीप कुमार चौधरी, मोक्षयतन योग संस्थान के संस्थापक योग गुरु स्वामी भारत भूषण जी का भी परिचय दिया।

 

शेखर विजेंद्र के बाद श्याम जाजू उन्होंने ना केवल श्री जगदीश प्रसाद माथुर जी के व्यक्तित्व के बारे में बताया बल्कि उनके जीवन से जुड़े कुछ पहलुओं पर प्रकाश भी डाला। इनके बाद लोकसभा सदस्य श्री प्रदीप कुमार चौधरी ने कहा कि हमें अपने राष्ट्र और परंपराओं के कल्याण के लिए काम करना चाहिए। साथ ही प्रदीप ने कुंवर शेखर विजेंद्र जी को आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करते हुए आयुर्वेद शिक्षण संस्थान को एक छोटे से शहर से लेकर बड़े मंच तक पहुंचाने के लिए धन्यवाद और बधाई भी दीं। उसके बाद योग गुरु स्वामी भारत भूषण जी ने अपने नजरिए को साझा करते हुए कहा कि जो व्यक्ति समाज के भले के बारे में सोचता है उसे आगे बढ़ने से कोई नहीं रोक सकता।

 

बता दें कि शोभित विश्वविद्यालय दुनिया के उन विश्वविद्यालय में से एक है जो रुद्राक्ष पर रिसर्च कर रहा है। इसी विषय पर शोभित विश्वविद्यालय के स्कॉलर डॉक्टर शिव शर्मा ने रिसर्च के बारे में थोड़ी जानकारी दी। उनके साथ डॉक्टर जयानंद, डॉक्टर संदीप कुमार और डॉक्टर जोशी भी मौजूद रहे।