0 0
Read Time:2 Minute, 45 Second

यूनाइटेड किंगडम यानी यूके में मेटावर्स में रेप का पहला मामला दर्ज हुआ है। ऑनलाइन मेटावर्स में 16 साल की लड़की के साथ गैंगरेप के इस मामले की पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने केस भी दर्ज कर लिया है। आरोप लगाने वाली नाबालिग लड़की का कहना है कि कुछ लोगों ने रिएलिटी गेम में उससे ऑनलाइन अवतार में गैंगरेप किया। बताया जा रहा है कि इस वजह से नाबालिग लड़की सदमें में और डरी हुई है।

पीड़िता ने बताया है कि असली दुनिया में यौन शोषण के दौरान असली दुनिया में जैसी तकलीफ होती है वैसी ही उसे इस दौरान हुई। एक ऑनलाइन रूप में कई लोगों की मौजूदगी में उसे शिकार बनाया गया। बताया जा रहा है कि मेटावर्स पर वर्चुअल दुनिया में रेप का यह अपनी तरह का पहला मामला है। किशोरी को दुष्कर्म पीड़िता की तरह ही मानसिक प्रताड़ना झेलनी पड़ी।

भावनात्मक और मनोवैज्ञानिक प्रभाव

डेली मेल की रिपोर्ट के मुताबिक 16 साल की यह लड़की एक इमर्सिव गेम में वर्चुअल रियलिटी (वीआर) हेडसेट का इस्तेमाल कर रही थी। इसी दौरान उसपर हमला किया गया। रिपोर्ट में ब्रिटिश अधिकारियों के हवाले से बताया गया है कि पीड़िता को इससे शारीरिक नुकसान तो नहीं हुआ, लेकिन इस घटना से उसपर पड़े भावनात्मक और मनोवैज्ञानिक प्रभाव को गंभीरता से लिया गया है।

पुलिस के सामने खड़ी हुई नई चुनौती

वहीं इसे पहला वर्चुअल यौन अपराध बताया जा रहा है। अधिकारियों का कहना है कि इससे कानून के सामने भी नई चुनौती खड़ी हो गई है, क्योंकि इस तरह के अपराध के लिए कानून में कोई प्रावधान नहीं है। बता दें कि वर्चुअल दुनिया मेटावर्स में असल दुनिया की तरह ही काम हो रहे हैं। इस दुनिया में लोग नहीं होते बल्कि लोगों के अवतार होते हैं। मेटावर्स में साइन इन करने वाले लोग वर्चुअल दुनिया में चले जाते हैं। वे वर्चुअल अवतार में ही लोगों से मिलते हैं।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %