सीतापुर से क्राइम ब्यूरो राज गौरव की खास रिपोर्ट

सीतापुर जिले के कोतवाली तालगांव क्षेत्र से सत्ता पाने के लिए एक पूर्व क्षेत्र पंचायत सदस्य पर अपनी जात को बदल कर खुद को अनुसूचित जाति का बनने का आरोप लगा है। इसकी शिकायत कई ग्रामीणों ने शपथ पत्र देकर पुलिस अधीक्षक आर पी सिंह से की है
कोतवाली तालगांव क्षेत्र के ग्राम जमुनापुर मजरा गोडरिया निवासी समर सिंह पुत्र स्वर्गीय अर्जुन सिंह ने एसपी सीतापुर को दिए गए प्रार्थना पत्र में बताया है कि विपक्षी पूर्व क्षेत्र पंचायत सदस्य अशोक सिंह उर्फ अन्नू पुत्र श्री रामदयाल निवासी जमुनापुर मजरा गोड़रिया अहिर बिरादरी का है उसने अपनी जात छिपाकर सरकारी दस्तावेजों में हेर फेर करके अपनी जात अनसूचित जात में दर्ज करा ली इस वर्ग को मिलने वाले आरक्षण का गलत दुरुपयोग किया जा रहा है। अशोक सिंह आरक्षित सीट पर सन 2005 से 2010 तक क्षेत्र पंचायत सदस्य था। राजनीतिक द्वेष भावना के चलते उसने मारपीट एवं एससी एसटी एक्ट की धाराओं में एक फर्जी मुकदमा भी दर्ज करा दिया है आरोप है कि अशोक के पिता रामदयाल पुत्र भवानी ने अपना एक मकान ग्राम जमुना पुर निवासी लालता पुत्र परागी को बेचा था जिसमें उन्होंने अपना रामदयाल वल्द भवानी कॉम अहिर साकिन जमुनापुर दर्ज कराया था समर सिंह ने एसपी आरपी सिंह मामले की जांच इसी आधार पर कराने की मांग की है उसने गांव के प्रताप सिंह, सुरेश प्रकाश सिंह, परसादी पुत्र कालिका, सुरेश प्रकाश यादव, रमेश कुमार यादव, रामनाथ यादव की ओर से शपथ पत्र भी दाखिल किया है।मामले में लहरपुर सीओ यादवेंद्र यादव ने बताया कि केश तो दर्ज किया गया था लेकिन पूरा प्रकरण संज्ञान में नही था आगे मामले की जांच कर कठोर कार्रवाई की जाएगी।