बीरेंद्र सिंह सेंगर
चंबल बैली पंचनद धाम
जुहीखा औरैया यूपी।

*ओली को माफी मांगनी होगी अपने दिऐ बयान पर*

*भारत में ही अयोध्या, अयोध्या में ही भारत- बी के शर्मा हनुमान*

ब्यूरो रिपोर्ट

जुहीखा औरैया।
विश्व ब्राह्मण संघ के प्रवक्ता बी के शर्मा हनुमान ने कहा कि नेपाल हिंदू राष्ट्र था लेकिन जब से वहां माओवादियों का शासन आया है तब से यह चीजें बिगड़ रही हैं पहले यह माओवादी थे लेकिन अब आतंकवादी होते जा रहे हैं बी के शर्मा हनुमान ने कहा कि असली अयोध्या भारत में है और इसी अयोध्या ने दुनिया का नेतृत्व किया है नेपाल के पीएम ने जो बयान दिया है वह निंदनीय है और इसके लिए उन्हें माफी मांगनी चाहिए नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने भगवान राम के जन्म स्थान को लेकर विवाद पैदा करने की कोशिश की है। नेपाल के कई नेताओं ने भी खुलकर ओली के बयान का विरोध किया है सोमवार को उन्होंने दावा किया कि भारत ने सांस्कृतिक अतिक्रमण के लिए नकली अयोध्या का निर्माण किया है जबकि असली अयोध्या नेपाल में है ओली पहले ही कह चुके हैं कि भारत उनको सत्ता से हटाने की साजिश रच रहा है ओली ने सवाल किया उस समय आधुनिक परिवहन के साधन और मोबाइल फोन संचार नहीं था तो राम जनकपुर तक कैसे आए इस पर विश्व ब्राह्मण संघ ओली के बयानों की घोर निंदा करता है और ब्राह्मण समाज की ओर से ओली को ब्राह्मण समाज से मुक्त किया जाता है बी के शर्मा हनुमान ने कहा कि किसी भी प्रधानमंत्री के लिए इस तरह का आधारहीन और अप्रमाणित बयान देना उचित नहीं है ऐसा लगता है कि पीएम ओली भारत और नेपाल के रिश्ते और बिगाड़ना चाहते हैं जबकि उन्हें तनाव कम करने के लिए काम करना चाहिए यह एक बड़ा भावनात्मक विषय है अब उच्च भाव और ऐसे बयान बाजी से आप केवल शर्मिंदगी महसूस करते हैं और असली अयोध्या बीरगंज के पास है सरयू नदी कहां पर है उसको भी पीएम ओली बताएं इस विषय पर पीएम ओली ने अगर माफी नहीं मांगी तो ब्राह्मण समाज कभी भी ओली को माफ नहीं करेगा।