वीरेंद्र सिंह सेंगर की रिपोर्ट

ओवरलोड वाहनों से हो रहीं सैकड़ों सड़कें बेकार, यात्रा करने वाले वाहनों को भुगतना पड़ रहा है खामियाजा

जालौन यूपी।
जालौन जनपद के उरई क्षेत्र में सिकरी गांव के पास व्यास नदी से हर वर्ष निकाली जाने वाली सदानीरा बेतवा नदी के मोहरम खंड संख्या 3 जो कि 6 माह के लिए मोरम की खनन की अनुमति मिली है लेकिन मोरम घाट का संचालन करने वाले नदी की जलधारा के बीचोबीच से पोकलेन जेसीबी मशीनों से अंधाधुंध तरीके से मोरम का खनन कर नदी का स्वरूप बिगड़ने पर तुले हुए हैं हैरानी की बात तो यह है कि उक्त मोरम घाट पर आज तक खनिज दफ्तर के जिम्मेदारों ने पहुंचकर निरीक्षण करने की जहमत तक नहीं उठाई यही कारण है कि पट्टा धारक जो इच्छा अनुसार पूर्ण
तरीके से नदी जलधारा से ही नहीं बल्कि निजी और परती भूमि से भी मोरम का खनन कराने में लगा हुआ है ।
हैरानी की बात तो यह है कि प्रशासन और खनन माफियाओं की इस मिली भगत का खमियाजा सीधा सीधा इन मार्गों पर चलने वाले वाहन चालकों को भुगतना पड़ रहा है जो कि इन मार्गों पर चलने के वास्तविक अधिकारी हैं