0 0
Read Time:3 Minute, 43 Second

संवाददाता महेन्द्र सिंह परमार नागाणी

नागाणी। अखिल राजस्थान राज्य कर्मचारी संयुक्त महासंघ एकीकृत के प्रदेश कार्यसमिति की वर्चुअल मीटिंग महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष केसर सिंह चंपावत की अध्यक्षता में आयोजित हुई। बैठक में महासंघ वरिष्ठ उपाध्यक्ष भंवर पुरोहित मुख्य सलाहकार गजेंद्र सिंह राठौड़ एवं प्रदेश संरक्षक सुरेंद्र सिंह शेखावत द्वारा विभिन्न घटक संगठनों के प्रदेश अध्यक्ष एवं महामंत्री व कार्यकारिणी के पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए महासंघ के विधान संबंधी जानकारी दी।
महासंघ के प्रदेशाध्यक्ष केसर सिंह चंपावत को मजबूती प्रदान करते हुए कर्मचारी हित में महासंघ को ऊंचाइयों पर पहुंचाने की बात कही।

महासंघ एकीकृत के प्रदेश प्रचारमंत्री एवं जिलाध्यक्ष सिरोही वीसाराम ,उपाध्यक्ष अरविन्द प्रजापति,कमलसिह ,हरीश सगरवंशी ने बताया कि महासंघ के उपाध्यक्ष जितेश पंड्या एवं डॉ० उदय सिंह डीगार ने महासंघ के 27 सूत्रीय मांग पत्र पर मुख्यमंत्री से वार्ता का समय तय कर निविदा संविदा कार्मिकों की नियमितीकरण एवं एक जनवरी 2004 के बाद नियुक्त राज्य कर्मचारियों के लिए NPS योजना की जगह OPS योजना लागू करने पर जोर दिया।
बैठक में संयुक्त महामंत्री विजय सिंह राठौड़ प्रदेश सचिव बजरंग सोनी ने अपने-अपने संवर्ग की वेतन विसंगति, ग्रेड पे विसंगति आदि मांगों को लेकर प्रमुखता से बात रखी। इसके अलावा वक्ताओं के रूप में सीपी जोशी सुषमा बत्रा,अनूप सिंह इंदा ,विकास दीक्षित सुभाष भट्ट हरीश प्रजापति राखी गहलोत अनीता वर्मा घनश्याम पंचारिया हितेश आडवाणी इंद्रजीत सहित अनेकों पदाधिकारियों द्वारा महासंघ की एकजुटता बनाए रखते हुए केसर सिंह चंपावत के नेतृत्व में आस्था एवं विश्वास जताया और महासंघ के 27 सूत्रीय मांग पत्र को लेकर आगे बढ़ने पर जोर दिया।
माननीय प्रदेश अध्यक्ष केशर सिंह चंपावत ने महासंघ के गत 2 वर्षों के अपने कार्यकाल की उपलब्धियों को बताते हुए और भावी योजना पर विस्तार से चर्चा करते हुए कहा कि संभाग और जिला स्तर पर महासंघ के शीघ्र ही कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे साथ ही जिला संगठनों को मजबूत किया जाएगा और महासंघ के मांग पत्र पर वार्ता हेतु मुख्यमंत्री से समय निर्धारित किया जाएगा। सरकार कर्मचारी हितों के प्रति ईमानदार नहीं रही तो प्रदेश अध्यक्ष द्वारा आंदोलन की चेतावनी दी।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %